Wednesday, July 7, 2010


"हर दिन की रौशनी सभी सात रंगों को अपने में समेटे रहती है। न कभी एक कम न कभी एक ज्यादा। जरूरत बस प्रिज्म को सही दिशा में सैट करने की है। अच्छाई-बुराई , लाभ - हानि, सुख-दुःख, गुण-अवगुण सब इस दुनिया में उपलब्ध है , निर्भर करता है की आपकी रूचि किसमे है। आपका सन्दर्भ क्या है और आपकी स्वाभाविक वृत्ति क्या ही आपका जीवन के प्रति नजरिया क्या है । "

Tuesday, July 6, 2010

क्षमा


"छमा मांगना कभी आपके गलत होने या छोटेपन का परिचायक नहीं है । इसका बस साधारण सा मतलब है की आप अपने घमंड और बडबोलेपन से ज्यादा अपनी सौम्यता, विनम्रता, और सहज प्रेम को तरजीह देते है। इसका मतलब है की आप अपने रिश्ते को अपने लाभ हनी से ज्यादा महत्वा देते है।"